CATEGORIES

April 2024
MTWTFSS
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930 
April 24, 2024

Kangana के खिलाफ एक पोस्ट पर मचा बवाल, Supriya पर उठे कई सवाल

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने अपने फेसबुक अकाउंट पर कल 25 मार्च को हिमाचल प्रदेश के मंडी से लड़ रही बीजेपी उम्मीदवार और अभिनेत्री कंगना रनौत की फोटो डालते हुए अपमानजनक कैप्शन लिखा था। उसके बाद राजनीति की दुनिया में हल्ला मच गया। सुप्रिया की इस पोस्ट के बाद उनपर कई सारे सवाल उठाये गए।

दरअसल सुप्रिया ने अपने फेसबुक अकाउंट पर कंगना का एक अश्लील फोटो डालते हुए कैप्शन में लिखा था “क्या भाव चल रहा है मंडी में कोई बताएगा?” इस पोस्ट के बाद राजनीति की दुनिया में बवाल मच गया। कई सारे नेताओं ने इसका विरोध करते हुए अपने-अपने एकाउंट्स पर पोस्ट डाली। और कंगना ने भी इस अपमान का जवाब देते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर एक पोस्ट डाली थी।

कंगना ने अपने X अकाउंट पर इस पोस्ट का रिप्लाई देते हुए लिखा “प्रिय सुप्रिया जी, एक कलाकार के रूप में अपने करियर के पिछले 20 वर्षों में मैंने हर तरह की महिलाओं की भूमिका निभाई है। क्वीन में एक भोली लड़की से लेकर धाकड़ में एक आकर्षक जासूस तक, मणिकर्णिका में एक देवी से लेकर चंद्रमुखी में एक राक्षसी तक, रज्जो में एक वेश्या से लेकर थलाइवी में एक क्रांतिकारी नेता तक। हमें अपनी बेटियों को पूर्वाग्रहों के बंधनों से मुक्त करना चाहिए, हमें उनके शरीर के अंगों के बारे में जिज्ञासा से ऊपर उठना चाहिए और सबसे बढ़कर हमें जीवन या परिस्थितियों को चुनौती देने वाली यौनकर्मियों को किसी प्रकार के दुर्व्यवहार या अपमान के रूप में इस्तेमाल करने से बचना चाहिए… हर महिला अपनी गरिमा की हकदार है।”

हालाँकि सुप्रिया का यह पोस्ट डिलीट कर दिया गया है। अपने इस पोस्ट की सफाई देते हुए X सुप्रिया ने लिखा था कि मेरे मेटा अकाउंट (एफबी और इंस्टा) तक पहुंच रखने वाले किसी व्यक्ति ने एक बेहद घृणित और आपत्तिजनक पोस्ट किया, जिसे हटा दिया गया है। जो कोई भी मुझे जानता है उसे पता होगा कि मैं किसी महिला के लिए ऐसा कभी नहीं कहूंगा। हालाँकि, मुझे अभी पता चला है कि एक पैरोडी अकाउंट मेरे नाम का दुरुपयोग कर रहा है जो ट्विटर (@सुप्रियापैरोडी) पर चलाया जा रहा है, जिससे पूरी शरारत शुरू हुई और रिपोर्ट की जा रही है। उनका यह दावा है कि यह पोस्ट उन्होनें नहीं किया है।

सुप्रिया श्रीनेत की सफाई पर बीजेपी नेता अमित मालवीय ने सवाल उठाए हैं। मालवीय ने कहा, यदि आपका अकाउंट वही पोस्ट कर रहा है जिसे पैरोडी अकाउंट ने पोस्ट किया है तो इसका सीधा सा मतलब है कि दोनों अकाउंट का एडमिन एक ही हैं। ऐसा करने के लिए व्यक्ति को विक्षिप्त होने की हद तक आत्म-अभिमानी होना पड़ता है। इनके अलावा स्मृति ईरानी ने भी इसका विरोध किया है।

वहीं NCW National Council for Women ने कहा कि वह सुप्रिया और एच.एस. अहीर के इस शर्मनाक आचरण से स्तब्ध है। और रेखा शर्मा ने भारत के चुनाव आयुक्त को पत्र भेजकर उनके खिलाफ तत्काल और सख्त कार्रवाई की मांग की है।