CATEGORIES

May 2024
MTWTFSS
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031 
May 20, 2024

घटना के 4 दिन बाद गिरफ्तार हुआ बदायूं का मुजरिम, एक व्यक्ति के घर पर छिपा हुआ था

8 Jan. Vadodara: भारत के उत्तर प्रदेश के बदायूं के गैंगरेप और हत्याकांड मामले में फरार चल रहे पुजारी सत्यनारायण को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने गुरुवार रात उसे मेवली गांव में एक भक्त के घर से पकड़ा गया। पहले पुलिस ने सत्यनारायण पर 25 हजार का इनाम रखा, जिसके बाद इनाम की रकम को बढ़ाकर 50 हजार कर दिया था। इनाम की घोषणा करने के बाद सत्यनारायण को गांववालों ने पकड़कर पुलिस के हवाले किया।

दरहसल बुधवार को आरोपी पुजारी ने एक बार मोबाइल ऑन किया था, जिसके बाद ही उसके आसपास होने की सूचना मिली थी। इसके बाद कई थानों की पुलिस के साथ SWAT टीम भी गांव के आसपास आरोपी की जांच में लग गई थी। दबाव बढ़ने के बाद ग्रामीणों ने पुजारी के होने की सूचना दी और बाद में उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

पुजारी से पूछताछ करने आईजी थाने पहुंचे

गिरफ्तारी की जानकारी मिलने के बाद बरेली के आईजी राजेश पांडेय भी थाने पहुंचे। फिलहाल पुजारी से पूछताछ जारी है। 3 जनवरी की रात हुई घटना के बाद 5 जनवरी को 3 लोगों के खिलाफ महिला के साथ गैंगरेप और हत्या का मामला दर्ज किया गया था। दो आरोपी जसपाल और वेदराम को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले में संज्ञान लेते हुए ADG अविनाश चंद को भेजा था।

थानाध्यक्ष और दरोगा पर लापरवाही का केस दर्ज

वहीं महिला से गैंगरेप और हत्याकांड मामले में एसएसपी ने कार्रवाई करते हुए उघैती थाने के निलंबित थानाध्यक्ष राघवेंद्र प्रताप सिंह और दरोगा अमरजीत पर लापरवाही का मुकदमा दर्ज किया गया है। देवेंद्र कुमार धामा की एसएसपी ने नया थानाध्यक्ष नियुक्त किया है।

तीनों आरोपियों ने पार की हैवानियत की हदें

मामला बदायूं के उघैती के एक गांव का है। यहां 50 साल की एक महिला रविवार शाम 6 बजे पूजा के लिए मंदिर गई थी। दो-तीन घंटे बीत जाने के बाद भी जब वह घर नहीं लौटी तो घर वाले थाने गए, लेकिन पुलिस ने रात 11 बजे तक उनकी कोई बात नहीं सुनी। आरोपी दरवाजे की कुंडी खटखटा कर महिला का शव फेंककर फरार हो गए।

दोषियों ने जाते समय बताया कि महिला कुएं में गिर गई थी, जबकि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में पीड़ित के निजी अंगों में लोहे की रॉड और कपड़ा डालने जैसी चीजें उजागर हुई थीं। अब तीनों आरोपीयों को गिरफ्तार कर लिया गया है।