CATEGORIES

July 2024
MTWTFSS
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031 
July 15, 2024
bangladesh-e1616746407619

आज से 2 दिन के विदेश दौरे पर मोदी, 16 महीने बाद मोदी अंतर्राष्ट्रीय दौरे पर

26 Mar. Bangladesh: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से दो दिवसीय बांग्लादेश दौरे पर हैं। कोरोना के कारण 497 दिन यानी 16 महीने 11 दिन बाद यह उनका पहला विदेश दौरा है। जब से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने, तब से कभी भी उनकी दो विदेश यात्राओं में इतना लंबा अंतराल नहीं रहा। बीते पूरे साल उन्होंने कोई विदेश दौरा नहीं किया। मार्च 2020 में उन्हें बांग्लादेश का दौरा करना था, लेकिन वह दौरा कोरोना के कारण रद्द हो गया था। अब वही बांग्लादेश दौरा शुरू हो गया है।

प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने किस साल कितने विदेश दौरे किए? अब तक वो कितने देशों की यात्रा कर चुके हैं? और कितने दिन वो विदेश में बिता चुके हैं? इन सब पर बात करेंगे, लेकिन पहले बांग्लादेश दौरे की बात कर लेते हैं।

प्रधानमंत्री अपने दौरे के दौरान बांग्लादेश के 50वें स्वतंत्रता दिवस और शेख मुजीब-उर-रहमान की जन्मशती समारोह में हिस्सा लेंगे। वो 1971 के युद्ध में मारे गए लोगों की याद में बनाए गए राष्ट्रीय शहीद स्मारक पर भी जाएंगे। इसके अलावा उनका सतखीरा और ओरकांडी में मंदिरों का दौरा करने का भी कार्यक्रम है। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री के साथ मिलकर मोदी ढाका में बंगबंधु-बापू एग्जीबिशन का उद्घाटन भी करेंगे। इस प्रदर्शनी में दोनों महान नेताओं से जुड़ी कई चीजों को प्रदर्शित किया जाएगा।

कोरोना से पहले मोदी की हर साल 10 से ज्यादा विदेश यात्राएं

मोदी को प्रधानमंत्री बने 6 साल 10 महीने हो चुके हैं। उन्होंने 26 मई 2014 को पहली बार और 30 मई 2019 को दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। प्रधानमंत्री कार्यालय की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, 2014 से नवंबर 2019 तक वो 59 बार विदेश दौरे पर गए।

कोरोना से पहले 2019 में ही उन्होंने 11 विदेश दौरे किए। इस दौरान 35 दिन विदेश में रहे। 2020 ऐसा पहला साल बीता जब उन्होंने एक भी विदेश यात्रा नहीं की। अपने अब तक के 59 दौरों में उन्होंने 106 देशों (इनमें 2 या उससे ज्यादा दौरे भी शामिल हैं) की यात्रा की है। इस दौरान वो सबसे ज्यादा छह बार अमेरिका के दौरे पर गए। इस दौरान वो कुल 229 दिन विदेश में रहे हैं।

कोरोना से पहले सबसे बड़ा ब्रेक 2017 में 5 राज्यों में चुनाव के दौरान लिया

कोरोना आने से पहले सिर्फ चार मौके ऐसे आए जब प्रधानमंत्री मोदी ने लगातार तीन महीने से ज्यादा समय तक कोई विदेश दौरा नहीं किया। इनमें सबसे लंबा गैप नवंबर 2016 से मई 2017 के बीच रहा। इसका एक कारण ये भी था कि, उस समय उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में विधानसभा चुनाव भी थे। इन 5 राज्यों में मोदी ने नवंबर 2016 से लेकर मार्च 2017 के बीच 38 दौरे किए थे। इसमें से सबसे ज्यादा 27 दौरे अकेले उत्तर प्रदेश में किए थे। चुनाव में भाजपा ने यहां की 403 सीटों में से 325 सीटें जीती थीं। भाजपा 5 में से 4 राज्यों में सरकार बनाने में कामयाब रही थी। अकेले पंजाब में उसे सरकार गंवानी पड़ी थी।

आखिरी बार नवंबर 2019 में विदेश दौरा किया था

प्रधानमंत्री मोदी का आखिरी विदेश दौरा 13 से 15 नवंबर 2019 में ब्राजील का था। उस समय मोदी BRICS में शामिल होने गए थे। दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद सिर्फ छह महीने में ही उन्होंने 10 विदेश दौरे किए। इस दौरान वो 13 देशों की यात्रा पर गए।

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति के साथ विपक्षी नेताओं से भी मिलेंगे मोदी

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रंगला ने बुधवार को बताया कि प्रधानमंत्री मोदी के दो दिन के इस दौरे के दौरान आपदा प्रबंधन, व्यापार और समुद्र विज्ञान समेत कई क्षेत्रों में समझौते होंगे। प्रधानमंत्री शेख मुजीब-उर-रहमान की समाधि पर भी जाएंगे। मोदी मुजीब-उर-रहमान की समाधि पर जाने वाले पहले भारतीय गणमान्य अतिथि होंगे। इस दौरान मोदी बांग्लादेश के राष्ट्रपति मोहम्मद अब्दुल हमीद से मुलाकात करेंगे। उनकी बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ डेलिगेशन-लेवल पर बातचीत होगी। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी बांग्लादेश के विपक्षी नेताओं, स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, अलग-अलग संप्रदायों के नेताओं और बांग्लादेश के यूथ आइकन्स से भी मिलेंगे।

मई में पुर्तगाल और जून में ब्रिटेन का दौरा कर सकते हैं मोदी

मई में भारत और यूरोपियन यूनियन के नेता मुलाकात कर सकते हैं। इसमें शामिल होने के लिए पीएम मोदी पुर्तगाल जा सकते हैं। इसके बाद जून में पीएम ब्रिटेन जाएंगे। यहां वे G7 समिट में हिस्सा लेंगे। कॉर्नवाल में होने वाली समिट के लिए मोदी को ब्रिटेन ने न्योता भेजा था। G7 में ब्रिटेन, जापान, फ्रांस, जर्मनी, इटली, कनाडा, अमेरिका और यूरोपियन यूनियन शामिल हैं।