CATEGORIES

July 2024
MTWTFSS
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031 
July 23, 2024

इलाकों से सैनिक हटाने और तनाव कम करने के प्रोसेस को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी अब चीन पर

25 Jan. Vadodara: भारत-चीन में तनातनी के बीच दोनों देशों के सैनिकों में एक बार फिर झड़प हुई है। भारतीय सेना ने सोमवार को जारी बयान में कहा, ’20 जनवरी को सिक्किम में दोनों देशों के सैनिक आमने-सामने हुए थे। दोनों के कमांडर्स ने तय प्रोटोकॉल के मुताबिक विवाद सुलझा लिया।’

सूत्रों के अनुसार, चीन ने Line of Actual Control पर घुसपैठ की कोशिश की। भारतीय जवानों ने रोका तो चीनी सैनिक हाथापाई पर उतर आये। भारतीय सेना ने इसका जवाब देते हुए चीन के सैनिकों को खदेड़ दिया। झड़प में चीन के 20 सैनिक घायल भी हो गए। भारत के भी 4 जवान जख्मी हुए हैं। हालांकि, सेना ने किसी के घायल होने की जानकारी नहीं दी है।

8 जनवरी को चीन के एक सैनिक को भारतीय सीमा में घुसने के बाद हिरासत में ले लिया गया था। यह घटना पूर्वी लद्दाख के पैगॉन्ग त्सो लेक के दक्षिणी हिस्से में हुई थी। भारत ने 2 दिन बाद चीनी सैनिक को लौटा दिया था। चीन ने सफाई पेश की थी कि उसका सैनिक गलती से भारतीय इलाके में चला गया। इससे पहले भी अक्टूबर में चीन के सैनिक भारतीय सीमा में घुसपैठ कर बैठे थी। अक्टूबर में डेमचोक सेक्टर में एक चीनी सैनिक को हिरासत में ले लिया गया था। 21 अक्टूबर को इसे चुशूल-मॉल्डो मीटिंग पॉइंट पर चीनी अफसरों को सौंप दिया गया था। वह दो दिन भारतीय सेना की हिरासत में रहा था।

चीन एक तरफ आर्मी और डिप्लोमेटिक स्तर पर बातचीत कर रहा है। तो दूसरी ओर घुसपैठ की साज़िशें रच रहा है। पूर्वी लद्धाख में चल रहे विवाद के बीच भारत-चीन की सेनाओं के बीच 9वें राउंड की बैठक रविवार को मोल्दो में 15 घंटे चली। बतौर न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मीटिंग में भारत ने कहा कि विवाद वाले इलाकों से सैनिक हटाने और तनाव कम करने के प्रोसेस को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी अब चीन पर है। ऐसा कहने की वजह यह मानी जा रही है कि चीन बार-बार अपनी बात से मुकर रहा है।

पिछले साल अप्रैल से ही बना हुआ है तनाव

भारत-चीन के बीच पिछले साल अप्रैल से तनातनी चल रही है। जून 2020 में गलवान में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। चीन के भी 40 से अधिक सैनिक मारे गए थे, हालांकि उसने कभी इस बात को कबूला नहीं है।