CATEGORIES

May 2024
MTWTFSS
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031 
May 20, 2024
2-4

लो अब बदल गया…दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम का भी नाम…

24 Feb. Ahmedabad: अहमदाबाद में विश्व के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का राष्ट्रपति और गृह मंत्री के हाथों उद्घाटन किया गया। मोदी सरकार ने मोटेरा स्टेडियम का नाम बदलकर नरेंद्र मोदी स्टेडियम कर दिया है।

क्रिकेट फैंस लंबे समय बाद अहमदाबाद में बने दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा के मैच का आनंद ले पाएंगे।आज से यहाँ भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरा टेस्ट मैच शुरू हो रहा है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस नवनिर्मित स्टेडियम का उद्घाटन किया और उनके साथ गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे। लेकिन जैसे ही इस स्टेडियम का उद्घाटन हुआ वहां मौजूद सभी भौचक्के रह गए, क्योंकि अब तक यह मैदान सरदार पटेल स्टेडियम के रूप में जाना जाता था, लेकिन अब इसका नाम बदलकर नरेंद्र मोदी स्टेडियम कर दिया गया है।

एशियन क्रिकेट काउंसिल के चेयरमैन जय शाह ने राष्ट्रपति कोविंद को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया और गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत,खेल और युवा मंत्री किरण रिजिजू, मुख्यमंत्री नितिन पटेल,गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष धनराज नथवाणी मौजूद रहे। करीब 700 करोड रुपए की लागत से बने इस स्टेडियम में ओलंपिक साइज का स्विमिंग पूल भी है। स्टेडियम में 4 ड्रेसिंग रूम है।

65 एकड़ में पूरा स्टेडियम परिसर है। मोटेरा स्टेडियम की खासियत यह है कि स्टेडियम के बीच में एक भी पिलर या अन्य कोई अड़चन नहीं है। इसका मतलब कि किसी भी स्टैंड में बैठकर मैच का लुफ्त उठाया जा सकता है। मोटेरा की 11 पिच में से पांच के निर्माण में लाल मिट्टी और बाकी में छह में काली मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है।

मोटेरा में मेईन ग्राउंड के अलावा दो प्रैक्टिस ग्राउंड भी है। दोनों मैदानों में मल्टीपल पिच है। उनमें से पांच लाल मिट्टी और चार काली मिट्टी से बनाई गई है। इससे पहले दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न का नाम शुमार था, लेकिन अब मोटेरा स्टेडियम सबसे बड़ा स्टेडियम है।क्योंकि इसकी दर्शक क्षमता 1,10,000 है।

स्टेडियम में 76 कॉरपोरेट बॉक्स भी है, इसमें बैठकर वीआईपी मैच का आनंद ले पाएंगे। हर एक स्टैंड में फूड और हॉस्पिटैलिटी की भी व्यवस्था है जिससे किसी भी कोने में बैठे दर्शक को यह सुविधा मिल सकेगी। इतना ही नहीं बारिश जैसी बाधा से निपटने के लिए यहां सब सोल ड्रेनेज सिस्टम बनाया गया है। जिससे सिर्फ 30 मिनट में मैदान को सुखाया जा सकता है। यानी 8 सेंटीमीटर तक बारिश होने पर भी मैच रद्द नहीं होगा।

मोटेरा स्टेडियम में एलईडी लाइट का भी उपयोग किया गया है और यह भारत का पहला ऐसा स्टेडियम है जहां एलईडी लाइट लगेगी और इस लाइट के इस्तेमाल से परछाई तक नजर नहीं आएगी।