CATEGORIES

February 2024
MTWTFSS
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
26272829 
February 28, 2024

इजराइल का ईरानी कनेक्शन ?

30 Jan. Vadodara: शुक्रवार को दिल्ली में इजराइली दूतावास के निकट हुए ब्लास्ट की जांच के लिए आज इजराइल की खुफिया एजेंसी मोसाद की टीम दिल्ली पहुँच सकती है। न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि, नेशनल सिक्योरिटी एजेंसी लेवल की बातचीत के बाद इजराइल की सरकार ने यह फैसला लिया है। एजेंसी के अनुसार, इजराइल के डिफेंस ने इस हमले के पीछे ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (IRGC) का हाथ बताया है। इसी के साथ इजराइल ने दुनियाभर में अपने दूतावासों की सुरक्षा बढ़ाने का भी फैसला लिया है।

जांच में अब तक मिले अहम सबूत

फॉरेंसिंक टीम की जांच में सामने आया है कि ब्लास्ट के लिए अमोनियम नाइट्रेट का इस्तेमाल किया गया था। तो वहीं, मौके से क्राइम ब्रांच की टीम को आधा जला हुआ गुलाबी रंग का दुपट्टा और इजराइली राजदूत के नाम एक लिफाफा भी प्राप्त हुआ है।

सूत्रों की जानकारी के अनुसार, इस लिफाफे के अंदर से एक चिट्ठी भी बरामद हुई है। इसमें ‘यह तो ट्रेलर है’ लिखा गया है। फॉरेंसिक टीम अब फिंगर प्रिंट की जांच करने में जुट गई है।

जांच एजेंसियों ने घटनास्थल से कोल्ड ड्रिंक कैन के टूटे हुए टुकड़े और बॉल बियरिंग्स बरामद किया है। इन टुकड़ों को जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा गया है। शुरूआती जांच से पता चला है कि कोल्ड ड्रिंक कैन में विस्फोटक और बॉल बियरिंग्स को ठूस दिया गया था।

धमाके की जगह पर NSG की टीम जांच के लिए पहुंची गयी है।

दो संदिग्धों के राज़ का खुलासा करेगा कैब ड्राइवर

पुलिस ने घटनास्थल के पास लगे हुए सीसीटीवी फुटेज को खंगाला और उसमें से दो संदिग्धों की पहचान भी की है। फुटेज में ये कैब से उतरते हुए दिखाई दे रहे हैं। पुलिस ने कैब ड्राइवर से पूछताछ का दौर भी शुरू कर चुकी है। इसके आधार पर संदिग्धों का स्कैच भी तैयार किया जा रहा है। पुलिस ने देर रात कई इलाकों में छापेमारी की। दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी गई है। क्राइम ब्रांच के साथ स्पेशल सेल और NIA की टीम ने भी मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है। दिल्ली में रहने वाले सभी ईरानी लोगों की जानकारी जुटाई जा रही है। दिल्ली पुलिस ने सभी होटल की तलाशी भी शुरू कर दी है।

ब्लास्ट के बाद भारत-इजराइल के विदेश मंत्रियों ने फोन पर बात की

धमाके को लेकर भारत और इजराइल के विदेश मंत्रियों ने फोन पर बात की। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि, ‘मैंने इजराइल के विदेश मंत्री गाबी अश्केनाजी से बात की है। हमने इस घटना को बेहद गंभीरता से लिया है। दूतावास और वहां काम करने वाले डिप्लोमेट्स को पूरी सुरक्षा दी जा रही है। घटना की जांच की जा रही है और दोषियों को खोजने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।’ जिसके बाद इजराइल के विदेश मंत्री गाबी अश्केनाजी का बयान आया कि भारत के विदेश मंत्री ने सभी इजराइली डिप्लोमेट की सुरक्षा का भरोसा दिलाया है। उन्होंने ब्लास्ट करने वालों को जल्द खोजने की बात भी कही है। मैंने उन्हें धन्यवाद दिया है। इस मामले में इजराइल पूरी तरह मदद करने को तैयार है।’

इजराइल के राजदूत ने कहा, भारत के साथ मिलकर जांच करेंगे

दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की बातचीत के बाद भारत में इजराइल के राजदूत रॉन मलका का बयान आया। उन्होंने कहा, ‘यह घटना दोनों देशों के बीच डिप्लोमैटिक संबंधों की 29वीं साल गिरह पर हुई है। हमलावरों और उनके मकसद का पता लगाने के लिए हम भारतीय अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। हमें भारत की जांच पर पूरा भरोसा है। इस जांच में इजराइल पूरी तरह से सहयोग करेगा।’ रॉन ने आगे कहा कि इसमें कोई शक नहीं है कि ये आतंकी हमला है।

पूरा देश हाई अलर्ट पर

दिल्ली के सबसे सुरक्षित क्षेत्र में हुए इस धमाके के बाद देशभर के 63 एयरपोर्ट्स पर हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। CISF ने कहा, ’63 एयरपोर्ट्स के साथ महत्वपूर्ण संस्थानों, सरकारी इमारतों की सुरक्षा को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है। दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है।’

खुफिया विभाग और क्राइम ब्रांच के अफसरों समेत बम निरोधक दस्ता मौके पर मौजूद है। आसपास के इलाके को सील कर दिया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने घटना की जांच शुरू कर दी है।’

9 साल पहले फरवरी 2012 में भी इजराइली दूतावास की एक गाडी को निशाना बनाया गया था। भारत में इजराइल के राजदूत की कार में 13 फरवरी 2012 को धमाका किया गया था। इस धमाके में राजदूत के ड्राइवर समेत 4 लोग घायल हुए थे। इजराइल ने ईरान पर इस हमले का आरोप लगाया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कार्यकाल में राजधानी दिल्ली में ये पहला ब्लास्ट है।